Hijaab-E-Hyaa Lyrics in Hindi – Kaka

Hijaab-E-Hyaa Lyrics in Hindi by Kaka is a brand new Punjabi song sung by Kaka. Hijaab E Hyaa song lyrics are penned down by Kaka and music of this song is given by Kartik Dev, Gaurav Dev while the music video is released by Kaka.

Song Details

Song: Hijaab E Hyaa
Singer: Kaka
Lyrics: Kaka
Music: Kartik Dev, Gaurav Dev

Hijaab-E-Hyaa Lyrics in Hindi – Kaka

ऐ हिज़ाब-ए-हया है या तेरी
साज़िश है कोई मेरी जान लैन दी

ऐ हिज़ाब-ए-हया है या तेरी
साज़िश है कोई मेरी जान लैन दी
जद मैं तेरा आशिक़ होया
लोढ़ की ऐ परेशान रेहन दी

मिट्टी ते कन्नियां वाली
खुशबु दे वरगी तू
मेरे दिल ते इश्क़े दे
बीजा नु तर गी तू

देखी हुन इश्क़ उगुगा
मेरे हर क़तरे तों
तैथों वी बच नहीं होना
दिल आ दे ख़तरे तों

जे तारीफ़ लई लफ़्ज़ हुन्दे तां
कोशिश क्यों करदा बेज़ुबान रेहन दी

ऐ हिज़ाब-ए-हया है या तेरी
साज़िश है कोई मेरी जान लैन दी
जद मैं तेरा आशिक़ होया
लोढ़ की ऐ परेशान रेहन दी

चेहरे ते परदा तेरे
दिखदे ने नैन नी
नैना दे आके किन्ने
टिकदे ने नैन नी

नज़र आ नाल फांसी लौना
सिखदे ने नैन नी
शायर आ नु हत्थों फड़ के
लिखदे ने नैन नी

जे तेरे लई जान गवावां
हिम्मत की मेरी एहसान केहन दी

ऐ हिज़ाब-ए-हया है जा तेरी
साज़िश है कोई मेरी जान लैन दी
जद मैं तेरा आशिक़ होया
लोढ़ की ऐ परेशान रेहन दी

सूरत देखण नु तरसे
रूह ने रूह देख लई
तेरा इरादा की ऐ
मेरे दिल नेक लई

जो वी तू मन्न बनावे
ऐन्ना तू गौर करी
मेरा दिल तेरे लई
कुल्ली हर एक लई

तेरी गुज़ारिश तां जान कड्डुगी
कर ले तैयारी फरमान केहन दी

ऐ हिज़ाब-ए-हया है या तेरी
साज़िश है कोई मेरी जान लैन दी
जद मैं तेरा आशिक़ होया
लोढ़ की ऐ परेशान रेहन दी